बुधवार, जुलाई 31, 2013

DR, PRATIBHA SOWATY: akvita

DR, PRATIBHA SOWATY: akvita:  ( link )
 -------------------------------------- 'आवाज़'  वे ! घूमती  हैं ! सकल / सम्पूर्ण , ब्रम्हाण्ड में ! अमर /शाश्वत , सत्य ...


____________________________________________

आवाज़ ...

 -------------------------------------- 'आवाज़' 
वे !
घूमती  हैं !
सकल / सम्पूर्ण ,
ब्रम्हाण्ड में !
अमर /शाश्वत ,
सत्य बनकर !

म्र्त्युलोक में ,
प्राणमय /अद्भुत् ,
'ध्वनिपुन्ज '
पीछा करता है ,
स्वच्छन्द /सतत !
------------------------------------------डॉ. प्रतिभा स्वाति
Like


  
ये सच है
सब / नश्वर है !
और / ये भी / कि
कुछ भी
नष्ट नहीं होता !
-------------------------------- बस / रूप बदलता है !
------------------------------ वह वस्तु हो / या आत्मा !
----------------------------------------------------------------------- और आवाज़ ?
------------------------------------------------------------------------------------------------- डॉ . प्रतिभा स्वाति

रविवार, जुलाई 28, 2013

शेर...

_____________
वन का राजा !
है इंसानों का डर ?
चिड़ियाघर !
______ हाइकू : डॉ. प्रतिभा स्वाति


सच


सच ...


दरअसल !                                    
सच छुपता रहा !
झूठ ने कहा !
कड़वे  सच्चे  बोल !
मीठे झूठ के खोल !
_________________
-------------------------- डॉ . प्रतिभा स्वाति 







शनिवार, जुलाई 27, 2013

आवाज़..(1)





हाइकू : sedoka

मन













  मन / अचानक
 एक तपस्वी की तरह
भीड़ से परे !
दूर / उस
क्षितिज की तरफ ,
बढ़ता ही गया !
उस , 
उत्तुंग शिखर की ,
                            ऊँची  शिखा !
                            अब / उसे ,
                             लौटने नहीं  देती !
                              वह / नितांत / अकेला 
                              ' समाधिस्थ ' 
------------------------------------- डॉ . प्रतिभा स्वाति  

मेरी बात ..


dekha jae to ye meri vo bate hn / jo mae khud hi khud se kiya karti hu !
chahti hu sb jan le / mere jane bina / mere btae bina !
chuki mae story writer hu / bhid me dam ghut jata h / tb aati hu idhar !
kabhi bhule se ....... kabhi janbhujhakar !
----------------------------------------------------Dr. pratibha sowaty





         देखा जाए तो ब्लॉग किसी भी writer के लिए उसके पूजास्थल से कम नहीं ! जहाँ वह ख़ुदको बड़ी बेबाकी से ज़ाहिर करता है ! बिना किसी व्यवधान के ! लेखनी लेकर ख़ुद की अनुभूतियों के मुज़ाहिरे के लिए और भी जगहें हैं ---net से जुड़ते ही ! ज़ुनुनन फेसबुक पर हर शख्स लेखक है :)
____________ वहां मुझ जैसों को बड़ा खतरा है , जो सीधे type करते हैं ! कहीं और संजो के नहीं रखते ! रात में खयाल आया लिखा और सुबह पाया की किसी और की wall पर उसके नाम और वाह -वाह के साथ चस्पा है !
वहां copy right act काम नहीं करता ! चोरने वाले कई बार बहुत मासूम होते हैं , उन्हें मालूम ही नही होता कि दूसरे की रचना के साथ खुदका नाम लिखना ग़लत है :)
____________ तब मैंने हाइकू के बजाय हाईगा लिखना शुरू किये ! उसके कॉपी पेस्ट होने की सम्भावना भी नहीं रहती और जिन users के mob. पर हिंदी font दिखाई नहीं देते ये चित्र उन्हें हिंदी दिखा देते हैं !
____________ pratibha k haiku नाम से fb पर जो page बना / इसी तर्ज़ पर :) जिसपर आज 5000 से ज्यादा fan हैं :)  यानि _________ कम हींग -फिटकरी में / रंग चोखा :)




शुक्रवार, जुलाई 26, 2013

चित्र...

__________________ दरअसल चित्रों के लिए हमारा रूझान बड़ा नैसर्गिक है ! प्रकृति कितने रूप दिखाती है ! ये विधाता के चित्र / उसका सृजन , हमें उकसाता है , खींचता है , बांध ही तो लेता है _____ कभी फूल से / कभी तितली से ! कभी नदी से , लहर से तो कभी चाँद से , सितारों से !
________ डॉ. प्रतिभा स्वाति

लिंक click कीजिये :)

गौरैया....









_________________________________ एक छोटी -सी चिड़िया __ कितने सारे सबक देती है ! उसकी रोज़ की मशक्कत , आकाश नापने की कोशिश , नन्हे चुज़ों को अपनी चोंच से दाना चुगाती  वो कैसी फ़रिश्तों जैसी लगती है ! और दीवार पे जड़ा आइना ___ क्या जादू है उसमें ?  सब काम से फ़ारिग गौरैया रोज़ उसमे अपना अक्स निहारती है ! कुछ कहती है और कभी खफ़ा होकर अपनी छोटी -सी चोंच से उस अंदर वाली गौरैया की चोच को टकराती है ! क्या उसे बाहर लाना चाहती है ? या ख़ुद को पहचान लेती है ? कई बार मैने उससे पूछा , और उसने बताया भी ......पर ये भाषागत विवशता / मैं कुछ भी समझ नहीं पाई ! पर ...समझना चाहती हूँ ....भाषा न सही / एक सम्वेदना मुझे उसके लिए कुछ करने को प्रेरित करती रहेगी / हमेशा !___________ डॉ. प्रतिभा स्वाति


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------